Shrawasti UP

उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस’’ के अवसर पर लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड एवं स्वीकृति पत्र का हुआ वितरण

श्रावस्ती 24 जनवरी 2023 जिले में भव्यतापूर्ण ढंग से ’’उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस’’ मनाया गया। कलेक्ट्रेट स्थित तथागत हाल में  24 से 26 जनवरी 2023 तक आयोजित होने वाले उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस का जिलाधिकारी नेहा प्रकाश, मुख्य विकास अधिकारी अनुभव सिंह, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) डी0पी0 सिंह एवं अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) सुभाष चन्द्र यादव ने फीता काटकर एवं द्वीप प्रज्वलित कर भव्य शुभारम्भ किया। उत्तर प्रदेश दिवस कार्यक्रम में जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारीगण एवं अन्य अधिकारियों के पहंुचने पर डी0सी0 एन0आर0एल0एम0, जिला सूचना अधिकारी, जिला उद्यान अधिकारी ने अगुवानी कर स्वागत किया। कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी ने विभिन्न विभागों द्वारा संचालित लाभार्थीपरक योजनाओं के लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र का वितरण, टूल किट, लाभार्थी कार्ड आदि का वितरण किया गया। इस दौरान लाभार्थियों को आयुष्मान कार्ड एवं उद्योग विभाग की विभिन्न योजनाओं अन्तर्गत स्वीकृति पत्र देकर लाभान्वित किया गया। कार्यक्रम में कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय हरिहरपुररानी एवं सिरसिया की छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुतीकरण  किया गया, जिसका उपस्थित जनसैलाब ने तालियों के गड़गड़ाहट से खूब सराहना भी की। 

    इस अवसर पर जिलाधिकारी ने अपने सम्बोधन में कहा कि ’’उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस’’ के अवसर पर यह कार्यक्रम आयोजित किया गया है, जो 24 से 26 जनवरी, 2023 तक मनाया जायेगा। उत्तर प्रदेश दिवस को स्थापना दिवस के रूप में प्रत्येक वर्ष 24 जनवरी को मनाया जाता है। मई 2017 में, उत्तर प्रदेश सरकार ने हर साल 24 जनवरी को यूपी दिवस मनाने की घोषणा की। इसलिए प्रत्येक वर्ष उत्तर प्रदेश दिवस का आयोजन किया जाता है। इस वर्ष यह कार्यक्रम ’’निवेश एवं रोजगार’’ की थीम पर आधारित है। उन्होने कहा कि जिले में निवेश को बढ़ावा देने एवं उद्योग की स्थापना हेतु विशेष प्रयास किये जा रहे है। इससे एक ओर जहां नये औद्योगिक क्षेत्र की स्थापना होगी वहीं जिला विकास के पथ पर अग्रसर होगा। उन्होने बताया कि जिले में उद्योग की स्थापना हेतु रू0 1500 करोड़ के निवेश का प्रस्ताव प्राप्त हुआ है, जिससे जिले में कई उद्योग-धन्धों की स्थापना होगी । इससे निश्चित ही हमारे जिले का विकास होगा और जिले के श्रमिकों को रोजगार मिलेगा और उनके जीवन स्तर में आर्थिक सुधार आयेगा। उन्होने कहा कि सरकार द्वारा एम0एस0एम0ई0 नीति जारी की गई है। जिसके तहत उद्यमियों को उद्योग स्थापना हेतु अनुदान में कई प्रकार की छूट भी प्रदान की गई है। जिसका सभी जनपदवासी लाभ लेकर आत्मनिर्भर बन सकते हैं और अपने जनपद के विकास के पहिये को आगे बढ़ाये।

     इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी ने ’’उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस के अवसर पर बधाई देते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में विभिन्न संस्कृति के लोगों द्वारा इसे नई पहचान दी गई है। उत्तर प्रदेश हमारे हिंदू तीर्थ स्थलों में सबसे प्रमुख माना जाता है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश पर्यटन और प्रमुख तीर्थ स्थल आदि यहां की प्रमुख विशेषताएं है। अवध में भगवान श्री कृष्ण और भगवान श्री राम का अवतार इस राज्य की भूमि पर ही हुआ था। हिंदू धर्म और भारतीय संस्कृति के प्रमुख वेद, उपनिषद, पुराण, आयुर्वेद, ज्योतिष की रचना, तथा इसके अलावा बहुत से तपस्वी संतों की कर्म स्थली उत्तर प्रदेश राज्य में ही है। सबसे बड़ी लोगों की आस्था का केंद्र बहुत अधिक धार्मिक स्थान इस राज्य में स्थित है, जो कि हिंदू धर्म की मान्यता लोगों की भावना, पूजा के लिए माने जाते हैं।

        इस दौरान विभिन्न विभागों द्वारा प्रदर्शनी एवं स्टाॅल भी लगाये गये। जिसका जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी, अपर जिलाधिकारी (वि0/रा0) एवं अपर जिलाधिकारी (न्यायिक) ने विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टाल एवं प्रदर्शनी का अवलोकन भी किया। जिसमें कृषि विभाग, उद्योग विभाग, डिजिटल उत्तर प्रदेश, साईबर सुरक्षा, खादी एवं ग्रामोद्योग, ग्राम्य विकास विभाग, जिला पूर्ति विभाग, होम्योपैथिक, मत्स्य, स्वास्थ्य, शिक्षा, पुलिस, कौशल विकास, स्वयं सहायता समूहों के उत्पादों आदि स्टाल लगाये गये है। इसके अलावा निवेश एवं रोजगार पर आधारित प्रदर्शनी एवं स्टाॅल स्टाल लगाये गये है तथा सरकार द्वारा संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी संगोष्ठी के माध्यम से दी गई है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य सुविधाओं और कोविड टीकाकरण का स्टाल लगाया गया। जिसकाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा निरीक्षण किया स्टाल पर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ सेव द चिल्ड्रन की टीम उपस्थित रही।

        उत्तर प्रदेश दिवस के अवसर पर उपनिदेशक कृषि कमल कटियार में कृषि विभाग की ओर से तिलहन मेला एवं जैविक मेला का आयोजन किया गया। जिसमें प्राकृतिक खेती के बारे में किसानों को जानकारी दी गयी। 

      इस दौरान सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग द्वारा प्रदर्शनी लगाकर प्रचार साहित्य का वितरण कर सरकार की योजनाओं का प्रचार-प्रसार भी किया गया। 

     कार्यक्रम का संचालन बेसिक शिक्षा विभाग के जिला समन्वयक अजीत उपाध्याय ने किया। 

     इस अवसर पर उपजिलाधिकारी आर0पी0 चैधरी, जिला विकास अधिकारी रामसमुझ, परियोजना निदेशक इन्द्रपाल सिंह, कार्यक्रम के नोडल/जिला पंचायत राज अधिकारी आनन्द प्रकाश, डी0सी0 एन0आर0एल0एम0 रविन्द्र कुमार चतुर्वेदी, सहायक निदेशक मत्स्य सुरेश कुमार, जिला सूचना अधिकारी शिवनाथ, जिला कृषि अधिकारी अवधेश यादव, जिला उद्यान अधिकारी दिनेश चैधरी, भूमि संरक्षण अधिकारी शिशिर वर्मा, जिला कृषि रक्षा अधिकारी विजय कुमार, जिला ग्रामोद्योग अधिकारी रोशन लाल पुष्कर, जिला पूर्ति अधिकारी, जिला होम्योपैथिक अधिकारी अवधराम बाजपेयी, सहायक आयुक्त उद्योग अरविन्द कुमार भास्कर, जिलाधिकारी आशुलिपिक चन्द्रमौली श्रीवास्तव, ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर शरद श्रीवास्तव, नाजिर अनूप तिवारी, स्वच्छ भारत मिशन के जिला समन्वयक राजकुमार त्रिपाठी, सहित समस्त खण्ड विकास अधिकारीगण एवं अन्य अधिकारी/कर्मचारीगण, अध्यापक/अध्यापिकाएं, सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत करने वाली छात्र-छात्राएं, किसान बन्धु एवं भारी जनसैलाब उपस्थित रहा।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations