हरियाणा सरकार मीडिया कर्मियों को सरकारी कर्मचारियों के समान स्वास्थ्य बीमा सुविधा का लाभ प्रदान करेगी।
हरियाणा सरकार मीडिया कर्मियों को सरकारी कर्मचारियों के समान स्वास्थ्य बीमा सुविधा का लाभ प्रदान करेगी।

चंडीगढ़

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने प्रदेश के मान्यता प्राप्त मीडिया कर्मियों को आज बड़ी सौगात दी । हरियाणा सरकार मीडिया कर्मियों को सरकारी कर्मचारियों के समान स्वास्थ्य बीमा सुविधा का लाभ प्रदान करेगी। मुख्यमंत्री ने आयुष्मान भारत बीमा योजना एंव अन्य स्वास्थ्य बीमा योजनाओं की समीक्षा बैठक के दौरान कर्मचारियों एवं पेंशनर्स को भी स्वास्थ्य बीमा योजना में कैशलेस सुविधा प्रदान करने के निर्णय को भी हरी झण्डी दी। समीक्षा बैठक के दौरान हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री श्री अनिल विज वीसी के माध्यम से जुडे़।

बैठक में आजाद हिन्द फौज के सेनानियों, आपातकाल के दौरान जेल में रहे लोगों, हिन्दी आन्दोलन में शामिल रहे लोगों एवं द्वितीय विश्व युद्ध के बंदियों एवं उनके आश्रितों को भी सरकारी कर्मचारियों की तर्ज पर कैशलेस स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ देने का निर्णय लिया गया।    

मुख्यमंत्री ने कहा कि विमुक्त घुमंतु जाति, मुख्यमंत्री परिवार समृद्वि योजना के लाभार्थियों एवं निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों को भी आयुषमान भारत बीमा योजना में कवर किया जाएगा। इसके साथ ही नम्बरदारों, चौकीदारों, आशा वर्कर, आंगनवाड़ी वर्कर, मनरेगा मजदूरों, स्ट्रीट वेण्डरों, रिक्शा चालक, आटो चालक के परिवारों को भी आयुषमान भारत योजना में शामिल किया जाएगा, बशर्ते उनकी पारिवारिक वार्षिक आय 1.80 लाख रुपए तक हो और 5 एकड़ से अधिक भूमि ना हो। योजना के तहत सभी पात्रों को कार्ड जारी किए जाएंगे जिसे दिखाकर निर्धारित अस्पताल में ईलाज करवाया जा सकेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पात्र परिवारों को पहले ही आयुषमान भारत योजना के तहत 5 लाख रुपए तक का निशुल्क स्वास्थ्य बीमा लाभ दिया जा रहा है। अभी तक प्रदेश में इस योजना के तहत 15.5 लाख परिवार पात्र हैं। मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस योजना में राष्ट्रीय खाद्यान्न सुरक्षा योजना के पात्र परिवारों को शामिल करने को भी मंजूरी दे दी । इस योजना के लागू होने के बाद हरियाणा में 27 लाख परिवार इसके तहत लाभान्वित होंगे। सभी को परिवार पहचान पत्र के साथ लिंक करने के बाद कार्ड जारी किए जाएंगे। 

परिवार पहचान पत्र से किया जाएगा लिंक

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा उद्वेश्य व्यवस्था में निरंतर सुधार करते हुए पात्र व्यक्तियों को लाभ पहुंचाना है। इसलिए इस योजना के सभी पात्रों का डाटा परिवार पहचान पत्र के साथ लिंक किया जाएगा ताकि सही और पात्र को ही लाभ मिले। उन्होंने कहा कि इसके लिए निरंतर निगरानी की व्यवस्था की जाएगी।

इस मौके पर हरियाणा के मुख्य सचिव श्री विजय वर्धन, मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव श्री डी एस ढेसी, अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल, श्री वी एस कुण्डु, श्री राजीव अरोड़ा, श्री टीवीएसएन प्रसाद, श्री अनुराग रस्तोगी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्री वी उमाशंकर,मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव डा. अमित अग्रवाल,

आयुष्मान भारत योजना हरियाणा की मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्रीमती अमनीत पी कुमार,  आयुष्मान भारत योजना हरियाणा के उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. रवि विमल, डा. वीना सिंह सहित स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

YOUR REACTION?