पुणे कॉर्पोरेशन की महिला अधिकारी को 50हज़ार की रिश्वत लेते हुए एंटी करप्शन ने किया गिरफ्तार
मुख्य विधि सल्लगार के पद पर कार्यरत महिला अधिकारी 30 जून को होने वाली थी सेवानिवृत्त

महाराष्ट्र, पुणे दि.14 जून

 पुणे कॉर्पोरेशन की महिला अधिकारी को पुणे एंटी करप्शन ब्यूरो ने 50 हज़ार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है. पता चला है की ये महिला अधिकारी 30जून को सेवा निवृत्त होने वाली थी. एंटी करप्शन की इस कारवाई से हड़कंप मच गया.

 शिवाजी नगर पोलिस स्टेशन में गुन्हा दाखिल किया गया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार गिरफ्तार महिला अधिकारी का नाम एडवोकेट मंजूषा इधाटे है और वो कारपोरेशन में मुख्य विधि सल्लगार के पद पर कार्यरत है.

इस सन्दर्भ में तक्रारदार एक कंस्ट्रक्शन व्यावसायिक है जिनकी कारपोरेशन में टीडीआर मामले शुरू है.कंस्ट्रक्शन व्यावसायिक की जमीन के भूसंपादन के बदले मिलने वाली टीडीआर की फ़ाइल कायदेशीर अभिप्राय के लिए उपरोक्त महिला अधिकारी के पास आई हुई थी. महिला ने अभिप्राय दे कर फ़ाइल आगे बढ़ाने के लिए 50 हज़ार की रिश्वत मांगी थी. कंस्ट्रक्शन व्यावसायिक ने इस की जानकारी पुणे एंटी करप्शन ब्यूरो को दी. जिसकी जाँच करने के बाद जाल बिछाया गया. जिसमे महिला को 50 हज़ार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों उन्ही के केबिन मे गिरफ्तार किया गया.

    इस कारवाई से कारपोरेशन में हड़कंप मच गया. ये महिला अधिकारी 30 जून को रिटायर होने वाली है.

YOUR REACTION?